get in touch - 9576-90-1111
free shipping
on orders over Rs.300
Welcome to OnlineBaChat

I Pill Emergency Contraceptive Pill

I Pill Emergency Contraceptive Pill

Be the first to review this product

SKU: IPILL

कब करें आईपिल का इस्तेमाल
*संभोग करते समय यदि कंडोम फट जाए
* यदि लगातार तीन दिन तक गर्भनिरोधक गोलियां लेना भूल जाएं
* यदि गर्भनिरोधक सूई लगवाने में 14 दिन से ज्यादा की देरी हो जाए
* यदि संभोग के समय कंडोम, कॉपर टी या अन्य गर्भनिरोधक का इस्तेमाल न किया जाए
* असुरक्षित संभोग किया जाए 
* किसी महीने में गर्भधारण के संभावित दिनों की गणना में गलती हुई हो
* जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाने या बलात्कार के बाद !!!

Check Zipcode

Availability: In stock

₹100.00
Product Description

    Details

    Product Details
    I-Pill is an Emergency Contraceptive Pill. It can prevent an unplanned pregnancy that may occur due to unprotected sex or failure of a contraceptive (birth control) method. It is not an abortion pill and does not work if you are already pregnant.
    Each Pill (as film-coated) contains
    Levonorgestrel I.P. 1.5mg
    Excipients     q.s.
    Colours : Lake Erythrosine, Lake Indigo Cramine & Titanlum Dioxide IP.

    Mfg. by : Piramal Healthcare

    Direction for Use
    Pill needs to be taken as soon as possible but not later than 72 hours after unprotected sex. The earlier you take it the more elective it will be.

    Keep in Mind
    Please refer to the enclosed insert for more information.
    Keep the medicines out of reach of children.
    Storage : Store in a cool, dry and dark place,
    Caution : Pill should not be used as substitute for a condom of any other regular contraceptive method, I -pill does not prevent the transmission of sexually transmitted diseases or HIV/AIDS.

    You will get
    12 x I pill Emergency contraceptive pill (Concealed Shipping)

    गर्भनिरोधक गोली लेना भूल गई हों तो लें आईपिल, गर्भ नहीं ठहरेगा!

    नियमित गर्भनिरोधक गोलियों के फेल होने पर आपातकालीन गर्भ निरोधक गोलियों (emergency contraceptive pills) के लिए प्रयोग की सलाह डॉक्टर देने लगे हैं। कामकाजी महिलाएं काम के दबाव व व्यस्तता के कारण कई बार गर्भ निरोधक गोलियों (contraceptive pills) को नियमित नहीं कर पाती हैं। इसका नतीजा अनचाह गर्भ, गर्भपात और मानसिक तनाव के रूप में सामने आता है। विशेषज्ञों की  राय है कि यदि महिलाएं लगातार तीन दिन तक गर्भनिरोधक गोली लेना भूल गई हो तो वह आईपिल खा सकती हैं, जिसके बाद गर्भ ठहरने की संभावना कम हो जाएगी।

    आईपिल (i pill) में अधिक मात्रा में होता है हार्मोन 
    आईपिल भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (icmr) के वैज्ञानिक एफ डॉ॰ शिव कुमार के अनुसार, आईपिल अनचाहे गर्भ को रोकने में सहायक है। असुरक्षित शारीरिक संबंध के तुरंत बाद या तीन दिनों के अंदर इसे लिया जाए तो गर्भ ठहरने की संभावना समाप्त हो जाती है। i pill उन्हीं हार्मोनों से बनी है, जिनसे अन्य गर्भनिरोधक गोलियां (contraceptive pills) बनाई जाती हैं। इसमें हार्मोन की मात्रा अधिक होती है, इसलिए इसका प्रभाव तत्काल होता है। 

    महानगरों में कम उम्र की लड़कियों द्वारा इसके दुरुपयोग की शिकायतें भी आ रही है। इसलिए लड़कियों व महिलाओं को यह जानना जरूरी है कि ईसीपी गर्भनिरोध का नियमित साधन नहीं है। यदि असुरक्षित संभोग के लिए इसे हथियार बनाएंगे यानी इसे नियमित गर्भ रोकने के तरीके जैसे- कंडोम, नियमित गर्भनिरोधक गोलियां, गर्भनिरोधक सूई आदि की तरह प्रयोग करेंगे तो यह गर्भ को ठहरने से रोकने में असरदायक साबित नहीं होगा।  

    स्त्रियों के अंडकोश से अंडा नहीं निकलने देता आईपिल 
    icmr के ही वैज्ञानिक एफ डॉ॰ एनके गुप्ता के मुताबिक वास्तव में यह जानना जरूरी है कि ईसीपी कार्य कैसे करता है। ईसीपी स्त्रियों के अंडकोश से अंडा निकलने में देर कर देती है या उस समय अंडे को छूटने से रोक देती है। इसके अलावा आईपिल अंडकोश नलियों में शुक्राणुओं का चलना बेहद मुश्किल कर देती है, जिससे अंडाणु व शुक्राणु का मेल ही नहीं हो पाता और गर्भ नहीं ठहर पाता है। 


    यह ठहरे गर्भ को नहीं गिराती
    डॉ॰ एनके गुप्ता के मुताबिक लोगों में यह भ्रम है कि emergency contraceptive pills गर्भपात की गोली है, लेकिन यह स्पष्ट शब्दों में बता दूं कि यह गर्भपात गोली नहीं, बल्कि सामान्य गर्भनिरोधक गोली की तरह ही है। आईपिल ठहरे हुए गर्भ को नहीं गिरा सकती है यह गर्भ बनने की प्रक्रिया को बाधित करती है। यही नहीं, यह ठहरे हुए गर्भ को कोई नुकसान भी नहीं पहुंचाती है। इसलिए इसे गर्भपात की गोली समझने की भूल किसी को नहीं करना चाहिए। इसे शारीरिक संबंध के 72 घंटे के भीतर ही लेना चाहिए। उसके बाद इसकी उपयोगिता नहीं है। 

    कैसे खाएं आईपिल
    डॉ॰ शिव कुमार के अनुसार, असुरक्षित संभोग के बाद सुबह नाश्ते के बाद या रात को खाने के बाद एक गोली खानी चाहिए। ईसीपी लेने के बाद भी यदि माहवारी संभावित समय के एक सप्ताह बाद तक नहीं होता तो गर्भधारण की जांच जरूर कराना चाहिए। 

    दूध पिलाने वाली मां भी ले सकती है
    बच्चे को स्तनपान कराने वाली माओं को नियमित गर्भनिरोधक गोलियां लेने की मनाही है। लेकिन आईपिल के साथ ऐसा नहीं है। आईपिल का उपयोग उन औरतों के लिए पूरी तरह सुरक्षित हैजो बच्‍चों को दूध पिला रही हैं। आईपिल भविष्य के गर्भधारण पर कोई असर नहीं डालती है।


    आईपिल का असर
    डॉ॰ शिव कुमार के अनुसार, यदि 100 महिलाएं माहवारी के दूसरे या तीसरे सप्ताह (गर्भधारण के संभावित दिन में) असुरक्षित संभोग करती  हैं तो उनमें से 8 महिलाएं गर्भ धारण करती हैं। जबकि असुरक्षित संभोग के 72 घंटे के भीतर आईपिल लेने वाली सिर्फ एक महिला ही गर्भवती होगी। यानि यह 85 प्रतिशत तक असरदार है। यदि असुरक्षित संभोग के 12 से 24 घंटे के भीतर इसका इस्तेमाल किया जाए तो यह ज्यादा असरदार साबित होती है।  


    आईपिल का साइड इफेक्‍ट (i pill side effects) 
    आईपिल के उपयोग से कभी-कभार जी मिचलाना, उल्टी होना, सिरदर्द, चक्कर आना, थकावट, स्तनों में भारीपन या स्‍तन में हल्का दर्द हो सकता है। लेकिन यह सामान्य परेशानियां हैं, जो आधे या एक दिन के बाद समाप्त हो जाती है। इसके उपयोग से अगली माहवारी कुछ दिन पहले या कुछ दिन बाद आ सकती है। कुछ महिलाओं में खून के धब्बे आने की भी शिकायत हो सकती है, लेकिन यह घबराने वाली बात नहीं है। हां आईपिल का लगातार और अधिक उपयोग यह गर्भ ठहरने से रोकने में अपना असर खो देता है।  

    आईपिल के बाद सामान्य गर्भनिरोधक का उपयोग
    आईपिल की खुराक लेने के बाद अगला महीना शुरू होने तक पहले की तरह ही एक नियमित गर्भनिरोधक गोली लेना जारी रखें। अगला महीना शुरू होने तक कंडोम का इस्तेमाल करें और अगली माहवारी के पहले दिन से गर्भनिरोधक गोलियों का नया पैकेट शुरू कर दें।

Additional Information

    Additional Information

    Brand No
Product's Review

    Write Your Own Review

    You're reviewing: I Pill Emergency Contraceptive Pill

Product Tags

    Use spaces to separate tags. Use single quotes (') for phrases.

CMS tab